अधिकारियों की नींद खुली


 अजमेर, 18 फरवरी। अजमेर विद्युत वितरण निगम की जनसुनवाई में प्रबन्ध निदेशक ने वृद्धा रामेश्वरी देवी को उनकी बहू से भरण पोषण दिलवाने के निर्देश दिए ।


वृद्धा शिकायत लेकर आई थी कि बेटे के निधन के बाद बहु उसका ख्याल नहीं रखती है। खोड़ा माता क्षेत्र के उद्यमियों को भी बिजली बिल की राशि चार किश्तों में जमा कराने की सहूलियत दी गई।
      प्रबंध निदेशक  वी एस भाटी ने मंगलवार को विद्युत उपभोक्ताओं की विद्युत संबंधी शिकायतों के समाधान के लिए हाथी भाटा पावर हाउस में जन सुनवाई की। उन्होंने जनसुनवाई के दौरान प्राप्त समस्याओ के निराकरण के लिए तुरन्त कार्यवाही के आदेश दिए।  जनसुनवाई में मुख्यतः बिल, लाइन शिफ्ट करवाने, सतर्कता जांच, आॅडिट चार्ज, मीटर, पेंशन सहित अन्य समस्याएं आईं।
    इस दौरान परिवादी श्रीमती रामेश्वरी देवी निवासी जायल नागौर ने प्रबंध निदेशक से गुहार लगाते हुए कहा कि उनके पुत्र स्व नारायण के स्वर्गवास के पश्चात उनकी बहू को निगम द्वारा अनुकम्पा नियुक्ति मिली थी। परन्तु नियुक्ति के पश्चात उनकी बहू अपनी जिम्मेदारियों से पीछे हट गई है जिनसे उनके भरण पोषण में दिक्कत आ रही है। इस पर प्रबंध निदेशक ने कंपनी सचिव को निर्देश दिए कि वे कानून के अनुसार परिवादी की हरसंभव मदद करें।