बजट:दिशाहीन और भ्रमित करने वाला । पायलट


जयपुर, 01 फरवरी। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं राज्य के उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने केन्द्रीय बजट को दिशाहीन और भ्रमित करने वाला बताया है। 


उन्होंने कहा कि पिछले साल के बजट प्रावधानों के विपरीत शिक्षा, चिकित्सा, स्वास्थ्य, सामाजिक सुरक्षा, कृषि और सिंचाई आदि पर खर्च 20 से 30 प्रतिशत कम हुआ है जबकि इस साल की घोषणाओं में अनुमानित खर्च में 5 लाख करोड़ की बढ़ोत्तरी कर दी गई है। 


उन्होंने कहा कि सरकार के पास राजस्व में निरन्तर कमी हो रही है ऐसे में सरकार धन का इंतजाम कैसे करेगी यह समझ से बाहर है। उदाहरण के तौर पर पीएम किसान योजना में 75 प्रतिशत किसानों को सभी तीनों किश्तें नहीं मिली हैं। उन्होंने कहा कि सरकार के पास संसाधनों की कमी है, वहीं निजी निवेशक मंदी झेल रहे हैं, ऐसे में निवेश कहॉं से होगा यह समझ से परे है।


  पायलट ने इस बजट को ग्रामीण भारत में मांग बढ़ाने में विफल बताया है और कहा है कि 2022 तक किसान की आय दोगुनी करने की बात 2017 में शुरू की गई थी एवं इस बजट में भी वही दोहराया गया है जबकि कृषि विकास दर अभी भी औसत 2 प्रतिशत के आस-पास है। 


उन्होंने बजट में बेरोजगारी कम करने के उपाय नहीं करने पर निराशा जाहिर करते हुए कहा है कि देश के युवाओं को भाजपा सरकार पिछले 6 साल से सपने ही दिखा रही है। उन्होंने कहा कि देश के बीमा क्षेत्र की सबसे बड़ी सरकारी बीमा कम्पनी जिसने पिछले साल 2600 करोड़ का मुनाफा कमाया, उसके शेयर बेचने का प्रस्ताव 136 करोड़ भारतीयों का भरोसा तोडने जैसा है जो एलआईसी पर भरोसा रखते हैं।