अल्पकालिक फसली ऋण की पुनर्भुगतान अवधि  बढ़ाई

 


नई दिल्ली, 30 मार्च । लॉकडाउन के दौरान किसानों की परेशानी समझते हुए केंद्र सरकार का निर्णय किसान बिना दंडात्मक ब्याज के मात्र 4 प्रतिशत ब्याज दर पर कर सकेंगे भुगतान।


केंद्र सरकार ने किसानों द्वारा बैंकों से लिए गए सभी देय अल्पकालिक फसली ऋण जो 1 मार्च 2020 और 31 मई 2020 के बीच देय हैं या देय होंगे, के लिए पुनर्भुगतान की अवधि 31 मई 2020 तक बढ़ाने का निर्णय लिया है। 


अब किसान 31 मई 2020 तक अपने फसल ऋण को बिना किसी दंडात्मक ब्याज के केवल 4 प्रतिशत प्रतिवर्ष ब्याज दर पर भुगतान कर सकते हैं। केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेंद्र सिंह तोमर ने इस निर्णय के लिए प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और वित्त मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण का आभार माना है।