रामानुज जयन्ती महोत्सव


जयपुर, 20 अप्रेल ।समस्त जीवों की रक्षा के संकल्प के साथ श्री गलता पीठ में 10 दिवसीय रामानुज जयन्ती महोत्सव मनाया जा रहा है।


उत्तर भारत की प्रमुख श्री वैष्णव पीठ श्री गलता जी में गलतापीठाधीश्वर स्वामी अवधेशाचार्य जी महाराज के सान्निध्य में वैशाख कृष्ण द्वादशी तदनुसार रविवार दिनाँक 19 अप्रैल 2020 से10 दिवसीय श्री रामानुज तिरुनक्षत्र (जयंती) महोत्सव मनाया जा रहा है।


युवराज स्वामी राघवेन्द्र ने बताया कि इस अवसर पर  नियमित रूप से प्रतिदिन तिरूमंजन ( अभिषेक ), वैदिक विधि से पूजन, अष्टोत्तरशत तुलसी अर्चना, पाठ, हवन, आदि किये जा रहे हैं।


प्रतिदिन प्रातः शरणागति गद्य, श्री रंगगद्य, श्री वैकुण्ठ गद्य पाठ तथा सायं स्तोत्ररत्न, यतिराजविंशति, रामानुज प्रपत्ति, पंचधाटी, भजयतिराजं स्तोत्र आदि के पाठ किये जा रहे हैं।


वैशाख शुक्ल पँचमी तदनुसार 28 अप्रैल 2020 को रामानुज तिरुनक्षत्र (जयंती) के दिन 10 दिवसीय महोत्सव का समापन श्री गलता पीठ स्थित रामानुजाचार्य जी के प्राचीन मूल विग्रह का वैदिक विधि से मंत्रोच्चरण के साथ पंचामृत, पंचमेवा, फलों, पंचद्रव्यों, सर्वऔषधि, सहस्त्रधारा, फलों के रस इत्यादि से कर किया जाएगा । दिव्य प्रबन्ध व स्तोत्र पाठ आदि का वाचन विद्वानों द्वारा किया जाएगा। 


रामानुज जयंती के अवसर पर श्री गलता पीठ द्वारा रामानुजाचार्य जी के जीव कारुण्य व सामाजिक समरसता से सम्बंधित प्रसंगों को भी लोगों तक विभिन्न माध्यमों से पहुंचाया जा रहा है।


इस वर्ष का रामानुज जयन्ती महोत्सव विश्व के कोरोनावायरस के प्रकोप से होने वाली हानियों से बचाव व सभी के उन्नत स्वास्थ्य की कामना भावना के संकल्प के साथ मनाया पूर्ण सादगी से मनाया जा रहा है ।स्वामी जी द्वारा सभी जनों से अपने अपने घरों में रहकर पूजा, पाठ, अर्चना आदि करने की अपील भी की जा रही है।