कोविड 19 पर अपडेट1637 मामलों की पुष्टि




नयी दिल्ली New Delhi , 1 अप्रेल । देश में कोविड-19 की रोकथाम, नियंत्रण और प्रबंधन की उच्चतम स्तर पर नियमित निगरानी की जा रही है और भारत सरकार द्वारा राज्यों/ संघ शासित प्रदेशों के सहयोग से विभिन्न कार्य शुरू किए गए हैं।


कैबिनेट सचिव ने सभी राज्यों/संघशासित प्रदेशों को निर्देश दिया है कि वे राहत केंद्रों/ क्‍वारंटीन  सुविधाओं में भोजन, पानी, चिकित्‍सा आपूर्तियां उपलब्‍ध कराने और स्‍वच्‍छता के इंतजाम करने जैसे लॉकडाउन उपायों का पालन सुनिश्चित कराने में प्रवासी कामगारों की स्थिति का समन्‍वय और प्रबंधन करें। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने कल प्रवासी कामगारों के उचित क्‍वारंटीन और मानसिक-सामाजिक उपायों के लिए परामर्श भी जारी किया था जो  https://www.mohfw.gov.in/pdf/RevisedPsychosocialissuesofmigrantsCOVID19.pdf पर उपलब्ध है।


माननीय उच्‍चतम न्‍यायालय के आदेश के तहत राज्‍यों को निर्देश दिए गए हैं कि प्रशिक्षित उपदेशक और/या समस्‍त धर्मों के सामुदायिक समूहों के नेता राहत शिविरों का दौरा करेंगे और प्रवासियों को मानसिक-सामाजिक सहायता प्रदान करेंगे। तकनीकी प्रश्‍नों के लिए माननीय उच्‍चतम न्‍यायालय के निर्देश पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने एक ई-मेल (technicalquery.covid19@gov.in) उपलब्‍ध करायी है, जो प्रश्‍नों के सम्बन्ध में एम्‍स, नई दिल्‍ली जैसे संस्‍थानों से विश्‍वसनीय तकनीकी जानकारी उपलब्‍ध कराएगी। समस्‍त तकनीकी दिशानिर्देश स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट (https://www.mohfw.gov.in/) पर भी उपलब्‍ध हैं। कोविड-19 से संबंधित प्रश्‍नों के लिए कुछ समय के लिए  टोल फ्री नम्‍बर  (1075) और हेल्‍पलाइन ई-मेल आईडी (ncov2019@gov.in) भी चालू हैं।


इसके अलावा, राष्‍ट्रीय औषध मूल्‍य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) ने अधिसूचित किया है कि चिकित्‍सा उपकरणों के सभी 24 वर्ग औषध (मूल्‍य नियंत्रण) आदेश 2013 के प्रावधानों के तहत गुणवत्‍ता नियंत्रण एवं मूल्‍य निगरानी के लिए 1 अप्रैल 2020 से औषध के रूप में नियंत्रित किए जाएंगे, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि कोई भी विनिर्माता इन मदों का एमआरपी पिछले 12 महीनों के एमआरपी से 10 प्रतिशत से अधिक न बढ़ाए।


आयुष मंत्रालय ने भी श्वसन संबंधी स्वास्थ्य के विशेष संदर्भ के साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने और निवारक स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल के लिए स्‍वयं की देखभाल के दिशा-निर्देशों की सिफारिश की है।


इस बात पर भी बल दिया गया है कि लॉकडाउन से संबंधित निर्देश, प्रस्‍तावित सामाजिक दूरी के उपाय और धार्मिक विशाल समागमों के लिए विशाल समूहों से बचा जाए। 


अब तक, कोविड 19 से 1637 मामलों की पुष्टि हो चुकी है और 38 मौतें हुई हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान, 376 नए मामलों की पुष्टि हुई है और 3 नई मौतें हुई हैं।132 व्‍यक्तियों का इलाज किया जा चुका है, स्‍वस्‍थ होने के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।