प्रवासी मजदूरों का सहारा बना प्रशासन


 किन्नोर , 25 अप्रेल । जिला प्रशासन किन्नौर कोविड-19  महामारी से निपटने के लिए प्रदेश में कफ्र्यू के दौरान मजदूरों विशेषकर प्रवासी मजदूरों को राहत प्रदान करने के लिए तत्परता से कार्य कर रहा है। 


 


 जिन मजदूरों व कामगारों के पास रहने के लिए कोई स्थान नहीं है, उन्हंे जिला प्रशासन द्वारा रहने व भोजन की सुविधा प्रदान की जा रही है। जिला के कल्पा स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला तथा रल्ली में प्रवासी मजदूरों के लिए राहत शिविर स्थापित किये गये हैं, जहां उन्हें खाद्य सामग्री के साथ अन्य मूलभूत सुविधाएं दी जा रही हैं। जिला के कल्पा स्थित राहत शिविर में शुरुआत में 15 प्रवासी मजदूरांे को रखा गया था और वर्तमान में सात नेपाली मजदूर इस राहत शिविर में ठहरे हुए हंै। रल्ली स्थित राहत शिविर में भी आठ प्रवासी मजदूर रह रहे हंै।


 जिला दण्डाधिकारी किन्नौर गोपाल चन्द ने कहा कि जिले में रोजी रोटी कमाने आये प्रवासी मजदूरों को हर सम्भव सहायता प्रदान की जा रही है तथा ऐसे मजदूरों को चिन्हित किया गया है, जिनके पास ठहरने व भोजन की सुविधा नहीं है।



 जिला प्रशासन ने जिला मुख्यालय रिकांगपिओ में फंसे लोगों की सहायता के लिए नियन्त्रण कक्ष स्थापित किया है, जिसके दूरभाष नम्बर-01786-223151, 223152, 223153, 223154, 223155 हैं। नियन्त्रण कक्ष चैबीस घंटे कार्य कर रहा है। इसके अलावा व्हाट्सऐप नम्बर 8580819827 भी जारी किया गया है, जिस पर संपर्क किया जा सकता है।